http://ggsnews24.com आखिर कार अधिकारियो ने कराया हाथी के शव का पोस्टमार्टम , रिपोर्ट पांच दिन बाद – GGS News24

आखिर कार अधिकारियो ने कराया हाथी के शव का पोस्टमार्टम , रिपोर्ट पांच दिन बाद

जीजीएस न्यूज़24 जौनपुर मीरगंज ब्यूरो नवीन पाण्डेय

मीरगंज,जौनपुर

स्थानीय क्षेत्र के *भटहर* गांव में मंगलवार को विद्युत करेंट की चपेट में आने से एक हाथी की मौत हो गयी थी।सूचना पर पहुचे वन विभाग के वरिष्ठतम अधिकारियों ने प्रशासनिक अधिकारियों को पूरे मामले से अवगत करने के बाद गुरूवार को भारी फोर्स की मौजूदगी में हाथी के शव का चिकित्सको ने पोस्टमार्टम किया। पांच दिन के बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट आएगी।इस दौरान मुख्य पशुचिकित्साधिकारी ने किसान व ग्राम प्रधान के बयान भी दर्ज किए हैं। बताते हैं कि भदोही जिले के सुरियावां थानांतर्गत अबरना गांव निवासी *सभाशंकर पांडेय* ने चार माह पूर्व गोरखपुर से 70 लाख का हाथी खरीदा था। जिसे 15 दिन पूर्व मनापुर निवासी *सहदेव पांडेय* अपने साथ अबरना के बड़कऊ, कप्तान तथा भदोही के सहबान के साथ हाथी को लेकर उनके घर से निकले थे। वह गांव-गांव भ्रमण करते हुए मंगलवार की शाम चार बजे भटहर गांव स्थित साईंनाथ कुटी मदिर के पास पहुंचे और रात में वहीं डेरा डाल दिया। जिसके बाद एक पेड़ में हाथी को जंजीर से बांध चारा-पानी देकर वह सभी सो गए थे । इसी बीच हाथी जंजीर तोड़ कर बगल स्थित *शेर बहादुर सिंह* के खेत में पहुंच गया और *काफी नीचे से गुजरे हाईटेंशन तार को अपनी सूंड़ से पकड़ लिया*। जिससे करेंट लगने से उसकी सूंड़ कट कर अलग हो गई और उसकी तड़प तड़प कर मौत हो गयी।भोर में जब महावत को हाथी गायब मिला तो अगल-बगल ढूंढते हुए खेत में पहुंच गए। वहां देखा तो हाथी मरा पड़ा था। घटना के बाद महावत ने हाथी मालिक को सूचना दी तो वे भी परिवार के साथ रोते बिलखते पहुंच गए। इसके बाद सैकड़ों लोगों के बीच गजराज के शव को डिप्टी सीवीओ मछलीशहर व डॉ पीके सिंह के नेतृत्व में चिकित्सकों की टीम ने मृत गजराज के शव की आवश्यक जांच पड़ताल के बाद गजराज के शव को लगभग 15 फिट गहरे गढ्ढे में दफन करा दिया गया। हाथी के दफन की सुचना मिलने पर वन विभाग के अधिकारी कमलेश कुमार मुख्य वन संरक्षक प्रयागराज जोन राजीव मिश्रा, वन संरक्षक अधिकारी वाराणसी एंव डीएफओ जौनपुर एपी पाठक तथा रेंजर मछलीशहर बीडी पाण्डेय व वन दरोगा कुमार गौरव बुधवार की देर शाम मौके पर पहुच गए और प्रशासनिक अधिकारियों को जानकारी दिया। सूचना पर उपजिलाधिकारी मछलीशहर अमिताभ यादव,क्षेत्राधिकारी सीओ विजय सिह भी पहुच गये। जिस पर वन विभाग के अधिकारीयो ने फैसला किया की गुरुवार की सबह दस बजे मृत हाथी को निकाल पोस्टमार्डम किया जायेगा। किन्तु गुरुवार की सुबह ग्रामीणों ने गढ्ढे से मृत हाथी को निकालने को लेकर रोष जाहिर किया। जिसके बाद 2 प्लाटून पीएसी एव कई थानों की फोर्स को बुलाया गया। जिसके बाद सात डाक्टरो की टीम ने गढ्ढे में उतरकर मृत हाथी के शव का पोस्टमार्टम किया। वन विभाग के अधिकारी कमलेश कुमार एव मुख्य वन संरक्षक प्रयागराज जोन राजीव मिश्रा व डीएफओ एपी पाठक ने बताया कि उपमुख्य पशु चिकित्साधिकारी मछलीशहर डा दिवाकर त्रिपाठी के नेतृत्व में चिकित्सको ने हाथी के शव का पोस्टमार्टम किया। पाँच दिन के बाद पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आएगी।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

क्या कोविड 19 का जिम्मेदार चीन है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close