http://ggsnews24.com राजकीय कृषि बीज गोदाम का जिला कृषि अधिकारी द्वारा किया गया निरीक्षण – GGS News24

राजकीय कृषि बीज गोदाम का जिला कृषि अधिकारी द्वारा किया गया निरीक्षण

जीजीएस न्यूज़24 ब्यूरो अतरौलिया आजमगढ़ आशीष कुमार निषाद

अतरौलिया, स्थानीय राजकीय कृषि बीज गोदाम का जिला कृषि अधिकारी डॉ उमेश कुमार गुप्ता द्वारा निरीक्षण किया गया ।इस दौरान उन्होंने बताया कि पूरे आजमगढ़ जनपद के 22 ब्लॉक में विभिन्न प्रजातियों के 1186 कुंटल धान एवं 840 कुंटल धैचा का बीज किसानों को अनुदान पर देने हेतु शासन से प्राप्त हुआ है ।जो किसानों में वितरित कराया जा रहा है ।उन्होंने बताया कि सर्वोत्तम प्रजातियों में धान सुगंध 105 एवं


917 बासमती प्रकार के धान है जो 135 दिन में तैयार हो जाते हैं। इसके चावल सुगंधित होते हैं इसका

उत्पादन 55 से 60 कुंतल प्रति हेक्टेयर होता है ।यह अपने आप में सर्वोत्तम धान की प्रजाति है ।अतरौलिया बीज गोदाम पर 58 .50 कुंटल धान की बीज एवं 45 कुंटल ढैचा की बीज प्राप्त हुए थे जिसमें से 45.5 कुंटल धान बिक चुके हैं शेष 11 कुंटल एच यू आर 105 एवं को 51 शेष है किसानों की मांग पर शीघ्र ही धान की और बीज यहां के लिए भेजी

जाएगी। धान बीज खरीद पर प्रदर्शन वाले किसानों को 90% एवं सामान्य किसानों को 50% अनुदान देय हैं।जिले में धान के बीज की कोई कमी नही है।बीज गोदाम पर कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु सोशल डिस्टेंसिङ्ग का कड़ाई से पालन करने का निर्देश दिया।प्रदेश में टिड्डी दल का हमला गंभीर समस्या है जिले के किसानों से टिड्डी के संभावित हमले से सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि किसानों को हर तरह की सुविधाएं उपलब्ध कराने एवं किसानों को जागरूक करने का


कार्य करें। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के मामले में प्रदेश में आजमगढ़ जिले का अच्छा स्थान होने पर उन्होंने अपने विभागीय कर्मचारियों की सराहना भी किया। केंद्र प्रभारी कमलेश वर्मा द्वारा गोदाम जींद सीट होने का जिक्र किया गया तो उन्होंने शीघ्र ही नए गोदाम की व्यवस्था कराने की बात कही ।इस मौके पर सहायक विकास अधिकारी कृषि अली अहमद अंसारी, केंद्र प्रभारी कमलेश वर्मा, प्राविधिक सहायक डॉक्टर शिव शंकर यादव, रमेश यादव, सुभाष सहित आदि लोग मौजूद रहे।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

क्या कोविड 19 का जिम्मेदार चीन है?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close