http://ggsnews24.com आखिर जेसीबी मशीन का रंग पीला ही क्यों होता है,और कोई रंग क्यों नही, आइये जानते हैं इसके पीछे का…… – GGS News24

आखिर जेसीबी मशीन का रंग पीला ही क्यों होता है,और कोई रंग क्यों नही, आइये जानते हैं इसके पीछे का……

जीजीएस न्यूज 24 : शायद ही कोई ऐसा होगा जिसने जेसीबी मशीन न देखी हो, जी हाँ वही जेसीबी मशीन जो मिट्टी खुदाई करने के काम आती हैं।इसका प्रयोग लगभग पूरी दुनिया में निर्माण कार्य में किया जाता है। लेकिन इसके बारे में एक ऐसी बात है जिसे शायद ही कोई जानता हो अगर आपने गौर किया हो तो आपने

जीजीएस न्यूज 24 मीडिया प्रभारी अशोक यादव

देखा होगा कि जेसीबी मशीन का रंग हमेशा पीला ही क्यों होता है। क्यों इसका कोई और रंग नहीं होता है?जेसीबी दुनिया की पहली ऐसी मशीन है, जो बिना नाम के साल 1945 में लॉन्च हुई थी। इसको बनाने वाले ने बहुत दिनों तक इसके नाम को लेकर सोच-विचार किया, लेकिन कोई अच्छा सा नाम न मिलने के कारण इसका नाम इसके आविष्कारक ‘जोसेफ सायरिल बमफोर्ड’ के नाम पर ही रख दिया गया।आपको जानकर हैरानी होगी कि जेसीबी पहली ऐसी निजी ब्रिटिश कंपनी थी, जिसने भारत में अपनी फैक्ट्री लगाई थी। आज के समय में जेसीबी मशीन का पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा निर्यात भारत में ही किया जाता है।

जानकारी के अनुसार आपको बता दें की साल 1945 में जोसेफ सायरिल बमफोर्ड ने सबसे पहली मशीन एक टीपिंग ट्रेलर (सामान ढोने वाला ट्रेलर) बनायी थी, जो उस वक्त बाजार में 45 पौंड यानी आज के हिसाब से करीब 4000 रुपये में बिकी थी दुनिया का पहला और सबसे तेज रफ्तार ट्रैक्टर ‘फास्ट्रैक’ जेसीबी कंपनी ने ही साल 1991 में बनायी थी। इस ट्रैक्टर की अधिकतम रफ्तार 65 किलोमीटर प्रति घंटा थी। इस ट्रैक्टर को ‘प्रिंस ऑफ वेल्स’ पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है।

आपको ये जानकर आश्चर्य होगा कि साल 1948 में जेसीबी कंपनी में महज छह लोग काम करते थे, लेकिन आज के समय में दुनियाभर में लगभग 11 हजार कर्मचारी इस कंपनी में काम करते हैंजानकारी के अनुसार जेसीबी के रंग को लेकर उन्‍होंने कहा कि पीले रंग की वजह से यह आसानी से दिख जाती है। पहले इसका रंग सफेद और लाल होता था। बाद में इसे पीला कर दिया गया। दरअसल, इसके पीछे तर्क ये है कि इस रंग के कारण जेसीबी खुदाई वाली जगह पर आसानी से दिख जाती है, चाहे दिन हो या रात। इससे लोगों को आसानी से पता चल जाता है कि आगे खुदाई का काम चल रहा है ।।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप हमारे GGS NEWS 24 निष्पक्ष पत्रकारिता को कितना अंक देना चाहेंगे?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close